कभी ना छोड़ो किसी बात को अधूरा ,

समय लगता है उसे करने में पूरा !

जान पर बन आती है , जब कह ना पाए हम अपने मन की बात ,

निंदे उड़ जाती है हमारी , चाहे दिन हो या रात !

अधूरे दिन , अधूरी रातें , अधूरी हैं ये तन्हाईयाँ,

आशाएं हैं, दुआएँ हैं, बहुत कुछ कहती है ये परछाईयाँ !

माफ करना अगर हो जाए इस दौर में थोड़ी नादानियाँ ,

जूठे हैं वादें , कसमें हैं जूठी , कोई नहीं बाँटता अपनी खुशियाँ !

किस्मत से लढना नहीं हमारे बस में ,

भर जाती हैं आँखें चमक से ,

जब लहराती है खुशियों की सतरंगी पतंग आकाश में ,

रंगने हमें ख़ुशी के रंग में !!!

Advertisements

2 thoughts on “

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s